बरेली इटावा रामगंगा नदी पुल की हालात जर्जर पुल के पोल पर खुले सभी जोड़ – video

बरेली-इटावा हाईवे पर रामगंगा पुल की हालत बेहद ही जर्जर होने लगी है. पुल पर जहां बेशुमार गड्ढे हो गए हैं. वहीं सड़क निर्माण पर डाली गई सरिया तक नजर आने लगी है. खास बात यह है कि ऐसी खतरनाक स्थिति को भी जिम्मेदार अफसरों ने नजरअंदाज कर दिया है.और हजारो की संख्या में लोग जान जोखिम में डाल कर निकल रहे है लेकिन जिम्मेबारो की आखे बंद है


फर्रुखाबाद में इटावा और बरेली को गंगा के ऊपर से जोड़ने के लिए रामगंगा पुल है. यह पुल तकरीबन 35 साल से अधिक पुराना है. इस पुल के रखरखाव का जिम्मा सेतु निगम का है. मगर, हकीकत यह है कि अब इस पुल पर आते ही वाहन हिचकोले खाने लगते हैं. रफ्तार एकदम थम सी जाती है. इसकी मुख्य वजह पुल पर बन चुके अनेक गड्ढे हैं. गड्ढों से निकले सरिया के कारण आए दिन टायर भी फटते रहते हैं. कुछ जगहों पर सरिया निकलकर ऊपर आ गए हैं. अगर अनदेखी का यही हाल रहा तो कभी भी बड़ा हादसा हो सकता है

.राहगीरों के अनुसार,इस पुल का निर्माण कई वर्ष पूर्व हुआ था और पुल में बड़े बड़े गड्ढे हो गये है और पुल का सरिया कई जगह से टुट चुका है.अगर शीघ्र मरम्मत का कार्य नहीं किया जाता है तो यह गड्‌ढा कभी भी बड़ा गड्ढा का रूप ले सकता है और गंभीर दुर्घटना घट सकती है. अब ऐसी खतरनाक स्थिति को जिम्मेदार अफसरों ने नजरअंदाज कर दिया है. पुल के ज्यादातर पिलर के जोड़ खुले होने के चलते कभी भी कोई बड़ा हादसा हो सकता है लेकिन इसको देखने बाला कोई नहीं

Share
LATEST NEWS
कार्डधारकों को राशन न देने पर दुकान निलंबित टेंपो से जान बचाने को कूदे युवक की करंट से मौत गंगा का जलस्तर चेतवानी बिंदु के करीब, पांच गांवों में घुसा पानी वीडीओ, स्वास्थ्य कर्मी और सिपाही निकले संक्रमित फर्रुखाबाद रहे चुके एसपी होंगे राष्ट्रपति पदक से सम्मानित,वर्तमान में है झांसी रेंज के IG, देश में सबसे अधिक कोरोना टेस्टिंग करने वाला राज्य बना उत्तर प्रदेश, बिजली चेकिग टीम ने 21 लोगों को बिजली चोरी करते पकड़ा पुलिस ने चोरी किये गये 20 मोबाइल सहित चोर को किया गिरफ्तार यूपी में कोरोना के 4537 नए मामले, बीते 24 घंटे में कोविड-19 से 50 लोगों की हुई मौत गंगा पहुंची चेतावनी बिंदु पास , खेतों में कटान से होने से गांव के लोग चिंतित