बंद क्रॉसिंग में फंसी स्कूली वैन, हादसा टला

जिला जेल की बंद क्रासिंग में सोमवार को अपरान्ह बच्चों को घर ले जा रही स्कूली वैन फंस गई। वैन में दस बच्चे सवार थे। सामने से मालगाड़ी आते देखकर गाड़ी में हड़कंप मच गया। भयभीत चालक ने बेरियर से सटाकर वैन को खड़ा कर दिया और बच्चों को आस पास के लोगों के सहयोग से उतरवाया। वैन को बीच में फंसा देखकर कई दुकानदार भी मौके की ओर दौड़ पड़े और बच्चो को क्रासिंग से बाहर निकालने की जद्दोजहद की। बेरियर से सटाकर बैन खड़ा कराने के बाद मालगाड़ी निकल गई। फतेहगढ़ के एक विद्यालय की स्कूली वैन बच्चों को घर छोड़ने जा रही थी।

जिला जेल क्रासिंग पर जैसे ही वैन पहुंची उस समय फाटक खुला हुआ था। इधर से कानपुर की ओर मालगाड़ी गुजरने को थी। जैसे ही यह वैन बीच क्रासिंग में आई कि दोनों तरफ से बेरियर बंद हो गया। सामने मालगाड़ी को आता देखकर वैन चालक के होश फाख्ता हो गई। आनन फानन में चालक ने गाड़ी को बेरियर से सटा दिया। एक तरफ बंद क्रासिंग और दूसरी तरफ मालगाड़ी आता देखकर आस पास क्षेत्र में भी हड़कंप मच गया। लोग बचाव के लिए मौके की ओर दौड़ पडे़।

इस बीच चालक और आस पास के दुकानदारों ने वैन की खिड़की खोलकर बच्चों को निकाला और उन्हें क्रासिंग से बाहर किया। बच्चे भी बुरी तरह से भयभीत हो गए। वैन चालक ने बगैर समय गंवाए गाड़ी को बेरियर से एकदम चिपका दिया। इस बीच मालगाड़ी कानपुर की ओर गुजर गई। स्थानीय लोगों का कहना था कि इसमें गेटमैन ने भी लापरवाही की। जब गाड़ी बीच में फंसी थी तो गेटमैन को स्कूली बच्चों से भरी वैन को गुजारने का मौका देना चाहिए था।

Share
LATEST NEWS