देश में अच्छे खिलाड़ियों को प्रतिभा दिखाने के लिए मंच ही नहीं मिल पाता-video

डब्ल्यूडब्ल्यूई चैंपियन दिलीप सिंह राणा उर्फ ग्रेट खली ने खिलाड़ियों की दम तोड़ती प्रतिभा की वजह खेल में राजनीति के बढ़ता दबदबा बताया। उन्होंने खिलाड़ियों की चयन प्रक्रिया पर सवाल उठाते हुए कहा कि देश में अच्छे खिलाड़ियों को प्रतिभा दिखाने के लिए मंच ही नहीं मिल पाता। न तो स्पो‌र्ट्स हॉस्टलों में अच्छे प्रशिक्षक हैं और न ही खिलाड़ियों को सुविधाएं मिल रही हैं।

शहर के एक पब्लिक स्कूल के वार्षिकोत्सव में भाग लेने आए खली ने कहा कि फिल्में नहीं रेसलिंग ही जिंदगी का जुनून है। इसीलिए अमेरिका में 13 साल रहने के बाद वहां के फिल्मी करियर और कारोबार को बंद करके देश लौटा हूं। डब्ल्यूडब्ल्यूई से संन्यास के बाद जालंधर में सीडब्ल्यूई रिग की स्थापना की है। वहीं युवाओं को रेसलिंग के लिए तैयार कर रहा हूं। अब तक आधा दर्जन युवा डब्ल्यूडब्ल्यूई में शामिल भी हो चुके हैं। बताया कि रेसलिग में विशेष रूप से शारीरिक बनावट की दृष्टि से भारतीयों की अपेक्षा पश्चिमी देशों के नागरिक प्राकृतिक रूप से ज्यादा मजबूत हैं।

Share
LATEST NEWS