दुष्कर्म का आरोपी लेखपाल प्रवेश सिंह तोमर साथी सहित गिरफ्तार, पुलिस ने भेजा जेल

नाबालिग बेटी संग दुराचार करने के आरोप में फरार चल  रहे लेखपाल प्रवेश सिंह तोमर को साथी सहित पुलिस ने बीती रात गिरफ्तार कर लिया। आज चिकित्सीय परीक्षण के बाद न्यायालय में पेशी के बाद जेल भेज दिया।तहसील सदर में तैनात रहे लेखपाल प्रवेश सिंह तोमर की पत्नी ने बीती 12 जनवरी को कोतवाली फतेहगढ़ में तहरीर देकर बेटी से दुराचार के आरोप में संगीन धाराओं के तहत मुकदमा पंजीकृत कराया था। इसके बाद पुलिस को जब तोमर की अपनी बेटी के साथ अश्लील आॅडियो बरामद हुईं तो एकाएक प्रशासन सख्ती में आ गया। एलर्ट हुई पुलिस की ताबड़तोड़ दबिशें देख प्रवेश तोमर जिले से फरार हो गया था। तोमर की पत्नी ने दर्ज कराये गये मुकदमे में आरोप लगाया था कि उसकी नाबालिग बेटी को तोमर आये दिन हवस का शिकार बनाता रहा।

जंगलों और होटलों में ले जाकर उसके संग खुद व अपने साथियों संग दुराचार कराता था। जब इस बात की जानकारी उन्हें हुई तो उन्होंने बेटी का दाखिला गैर प्रान्त में करा दिया। इसके बावजूद लेखपाल तोमर बेटी संग अश्लील बातें फोन पर करता था। मामले की तह तक पहुंचे पुलिस अधीक्षक डाॅ. अनिल कुमार मिश्र ने जब हकीकत जानी तो वह दंग रह गये। उन्होंने बेटी को न्याय देने के लिए पूरी ताकत झोंक दी। स्वाट टीम प्रभारी दिनेश गौतम, सर्विलांस प्रभारी सुरेश कुमार व फतेहगढ़ कोतवाल जसवंत सिंह की टीमें बनाकर क्षेत्राधिकारी नगर एमएल गौड के निर्देशन में आरोपियों की गिरफ्तारी के कड़े निर्देश दिए। पुलिस अधीक्षक स्वयं पूरे प्रकरण में पल-पल की जानकारी लेते रहे।

उन्होंने आरोपी बनाये गये लेखपाल प्रवेश सिंह तोमर उसके साथी विष्णु शरण रस्तोगी, लेखपाल विमल कुमार, मनोज शाक्य व उसका साथी एवं सोनू तिवारी की गिरफ्तारी शीघ्र करने के आदेश दिए। स्वाट टीम व कोतवाली पुलिस ने लेखपाल प्रवेश सिंह तोमर से जुड़े कई युवकों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया। लेखपाल विमल कुमार के अध्यापक भाई को दबाव के लिए हिरासत में लिया। 


स्वाट टीम प्रभारी दिनेश गौतम  व कोतवाली फतेहगढ़ प्रभारी निरीक्षक जसवंत सिंह आदि ने मुखबिर ने सूचना पर बीती रात कई दिनों से फरार चल रहे लेखपाल प्रवेश सिंह तोमर व उसके साथी राहुल श्रीवास्तव को गिरफ्तार कर लिया। आज न्यायालय में पेश करने के बाद जेल भेज दिया। क्षेत्राधिकारी नगर एमएल गौड ने बताया कि अन्य आरोपियों की भी धर-पकड़ शीघ्र होगी। जिलाधिकारी के निर्देश पर पूर्व में ही लेखपाल प्रवेश सिंह तोमर को निलंबित किया जा चुका है। 

Share