कोरोना लॉकडाउन के बीच अमेजन ने की 50 हजार लोगों को भारत में नौकरी देने की घोषणा

वैश्विक महामारी कोराना वायरस ‘कोविड-19’ के खिलाफ देश जहां सामाजिक दूरी का पालन कर इससे निपटने का प्रयास कर रहा है, वहीं अमेजन इंडिया ने लोगों को अनिवार्य सेवा घर तक प्रदान कराने के लिए जरुरत के आधार पर 50 हजार अंशकालिक नियुक्तियां करने की घोषणा की है। ताकि लोगों को अपने घर से निकले बिना अपने परिवारों के लिये जरूरी चीजें मिल सकें। 

अमेज़न इंडिया ने शुक्रवार को अपनी सेवा पर निर्भर लोगों की बढ़ती मांग के मद्देनजर उसकी पूर्ति करने के लिये जरूरत के आधार पर करीब 50,000 नियुक्तियों (सीजनल रोल्स) की घोषणा की है। ये नियुक्तियां खासकर उन लोगों के लिए, जो भीड़ में जाने के लिए सबसे ज्यादा संवेदनशील हैं। उसके फुलफिलमेन्ट सेंटर्स और डिलीवरी नेटवर्क में विभिन्न नियुक्तियां होगी। इसमें अमेज़न फ्लेक्स के साथ स्वतंत्र ठेकेदार के तौर पर अंश-कालिक लोचशील कार्य अवसरों भी शामिल हैं।

अमेजन इंडिया के उपाध्यक्ष अखिल सक्सेना ने कहा, “कोविड-19 महामारी से हमने एक चीज सीखी है कि अमेज़न और ईकॉमर्स अपने ग्राहकों, छोटे व्यवसायों और देश के लिये कितनी महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं। हमने इस जिम्मेदारी को गंभीरता से लिया है और हम इस ज़म्मिेदारी को गंभीरता से लेते हैं, और इस कठिन समय में छोटे और अन्य व्यवसायों को हमारे ग्राहकों तक पहुंचाने में हमारी टीम जो काम कर रही है हमें उस पर गर्व है।”

उन्होंने कहा, “हम पूरे भारत में ग्राहकों को उनकी जरूरत की हर चीज पाने में मदद करना जारी रखना चाहते हैं, ताकि वे सामाजिक दूरी का पालन करते रहें। इसके लिये, हम अपने फुलफिलमेन्ट और डिलीवरी नेटवर्क में लगभग 50,000 सीजनल एसोसिएट्स के लिये काम के अवसर निर्मित कर रहे हैं। इससे महामारी के दौरान यथसंभव संख्या में लोगों को काम मिलेगा और काम के लिये एक सुरक्षित माहौल भी मिलेगा।”

अखिल सक्सेना आगे बताते हैं कि इन अवसरों का निमार्ण करते हुए अमेज़न अपने एसोसिएट्स, पार्टनर्स, कर्मचारियों और ग्राहकों के स्वास्थ्य और सुरक्षा के लिये प्रतिबद्ध है और उनके कल्याण के लिये कई उपायों पर क्रियान्वयन कर चुका है। कंपनी ने अपने लोगों की सुरक्षा के लिये अपनी परिचालन प्रक्रिया में करीब 100 महत्वपूर्ण बदलाव किये हैं, जैसे चेहरा ढंकना अनिवार्य करना, भवनों में रोजाना तापमान की जांच, सभी साइट्स पर सफाई के काम को तेज करना, बार-बार छूए जाने वाले एरियाज का नियमित सैनिटाइजेशन और हाथ धोने तथा हैण्ड सैनिटाइजेशन पर असोसिएट्स के बीच सुरक्षा सम्बंधी जागरूकता पैदा करना है।

Leave a Reply

Share
LATEST NEWS
दवा से कम नहीं है पालक, जानिए गर्मी में इसके सेवन से होने वाले 10 फायदे 371 नए मामलों के साथ कोरोना मरीजों की संख्या 9 हजार के पार, अबतक 245 की मौत दो शराब तस्करों सहित पुलिस ने बरामद किया अवैध शराब का जखीरा अज्ञात वाहन की टक्कर लगने से साइकिल सवार की मौत भूसा भरा ट्रक इटावा बरेली हाइवे पर पलटा, मुख्य मार्ग हुआ बन्द। उत्तर प्रदेश में घटा कोरोना का संक्रमण, 24 घंटे में 141 नए केस, एक की मौत साढ़े 13 हजार मोबाइल में चल रहा एक ही आईएमईआई नंबर, चीन की कंपनी पर मेरठ में मुकदमा जिले में मिले 4 कोरोना पॉजटिव, संख्या हुई 43 जिलाधिकारी ने कोरोना संक्रमित भर्ती मरीजों की व्यवस्थायें सुनिश्चित करने के दिये निर्देश बदायूं में भाभी को गोली मारने के बाद देवर ने किया सुसाइड, दोनों की मौत
फर्रुखाबाद में टोटल मरीज 43 डिस्चार्ज कोरोना मरीज 21 कोरोना ऐक्टिव संख्या - 22 कोरोना मरीज की मौत 00