बिजली कर्मियों की हड़ताल से चकरघिन्नी बना रहा पुलिस प्रशासन

बिजली कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति के बैनर तले सोमवार को बिजली कर्मी हड़ताल पर रहे। संविदा कर्मियों के हाथों में बागडोर रही। सुबह एसडीएम सुनील कुमार यादव रुटौल बिजली घर पर पहुंचे। जहां उन्होंने मौजूद एसएसओ संदीप कुमार को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि यदि कोई दिक्कत है तो कंट्रोल रूम के नंबर पर काल कर समस्या बताए। इस दौरान कोतवाली प्रभारी दिनेश भारती फोर्स के साथ राउन्ड करते देखे गए। पहले वह रुटौल बिजली घर पर पहुंचे। इसके बाद वह भटासा केन्द्र पर पहुंचे। पूरे दिन बिजली घरों पर पुलिस तैनात रही। इसके अलावा केन्द्रों पर राजस्व कर्मी व शिक्षा विभाग से भी लोग मौजूद रहे।

लोकल फाल्ट, टू फेस व लाइन में खराबी की सूचना के बाद भी संविदा कर्मी लाइनमैन काफी देर तक नहीं पहुंचे। इससे उपभोक्ताओं को परेशानी का सामना करना पड़ा है। हड़ताल के दौरान पुलिस प्रशासन चकरघिन्नी बना रहा। पावर कारपोरेशन के अफसरों के आफिस में ताला लगा रहा। बाहर लेखपाल व शिक्षा विभाग के लोग डटे रहे।

संविदा कर्मियों के हाथों में बिजली व्यवस्था की कमान थी लेकिन फाल्ट पर ध्यान नहीं दिया गया। सुबह साढे़ आठ बजे नुनहाई रोड पर पहला फाल्ट हुआ। इसके बाद नौ बजे जटवारा रोड पर बिजली टू फेस हो गई। वही दस बजे बाईपास रोड स्थित एक हास्पिटल की के पास आपूर्ति बांधित हो गई। 11 बजकर 50 मिनट पर मोहल्ला बगिया में बिजली टू फेस हो गई। 12 बजे लालकुआ रोड पर 11 हजार लाइन में खराबी आ गई।12 बजकर 15 मिनट पर जटवारा ट्रांसफार्मर से टू फेस हो गई। पौने दो बजे बजरिया रामलाल फाल्ट आने से आपूर्ति बाधित हो गई। शिकायत के बाद भी कई घंटे तक बिजली सही नहीं हुई। इससे कहा जा सकता है कि कही न कही पर संविदा कर्मियों ने भी हीलाहवाली की।

Share
LATEST NEWS