बिजली कर्मचारियों का कार्य बहिष्कार आंदोलन दूसरे दिन भी जारी

उत्तर प्रदेश में पूर्वांचल विद्युत वितरण निगम के निजीकरण के विरोध में बिजली कर्मचारियों का कार्य बहिष्कार आंदोलन दूसरे दिन भी जारी है। जिससे कई जगहों में विद्युत आपूर्ति ठप हो गई है। विद्युत आपूर्ति ठप होने से लोग परेशान हैं।वहीं जनपद में कई फीडरों की सप्लाई बाधित होनें से अँधेरे में हैं| कई जगह रात में ही सप्लाई बाधित हो गयी थी कुछ जगह दिन में सप्लाई बंद हुई|  जिससे हाहाकार मचा है|जिलाधिकारी ने संविदा कर्मचारियों से बंद लाइनो को चालू करवाया है


विधुत कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति के बैनर तले आंदोलन में बिजली कर्मी भोलेपुर बिजली घर पर निजीकरण के विरोध दूसरे दिन सरकार के खिलाफ आन्दोलन की खिचड़ी पकाते नजर आये| बिजली कर्मियों नें ऊर्जा मंत्री श्रीकान्त शर्मा के खिलाफ नारेबाजी की|  बैठक को सम्बोधित करते हुए अधिशाषी अभियंता हरीबरन नें कहा कि पूर्व में भी निजीकरण के लिए किये गये सभी प्रयोग विफल रहे| सरकार निजीकरण ना करने व्यवस्था और नीतियाँ ठीक करे| सरकार नें प्रदेश की जनता गरीब किसान, कर्मचारी के हितों को ताक पर रख दिया है|  जिले की बिजली व्यवस्था दुरुस्त रखने को उपकेंद्रों पर तैनात संविदा कर्मियों को कमान दी गई थी।

उनकी सुरक्षा को उपकेंद्रों पर पुलिस बल और सहयोग में पीडब्लूडी के जेई, आईटीआई के टेक्निकल कर्मचारी लगाए गए थे। कुछ जगहों पर छोटे-छोटे फाल्ट आने पर संविदा कर्मचारियों ने ठीक करवाए।हड़ताल के चलते शहरी, ग्रामीण खंड और कायमगंज खंड कार्यालय के सभी कैश काउंटर बंद रहे। इससे उपभोक्ताओं को बिल जमा करने में दिक्कत उठानी पड़ी। भोलेपुर स्थित डिवीजन कार्यालय में सुबह दस से दोपहर दो बजे तक उपभोक्ता बिल जमा करने को आते रहे। हालांकि सभी को लौटना पड़ा।वही कार्य वहिष्कार बिजली कर्मचारियों का समर्थन युवा कांग्रेस ने किया है।

Share
LATEST NEWS