भाजपा कार्यकर्ताओं ने कृषि यंत्रों की पूजा करना बताया किसानों के लिए उपयोगी है कृषि यंत्र

फर्रुखाबाद में भारतीय जनता पार्टी ने किसान संशोधन बिल का विरोध करने वाले कांग्रेसियों को करारा जबाव देते हुए कृषि यंत्र पूजन करके किसानों को सम्मानित किया। आज सातनपुर मंडी में सांसद, विधायक व वरिष्ठ नेताओं की मौजूदगी में कृषि यंत्र पूजे गये और किसानों को सम्मानित किया गया। सांसद ने कहा कि कृषि यंत्रों को जलाकर कांग्रेस ने किसानों को अपमानित करने का काम किया है। वे बोले कि कांग्रेस ने किसान को आजादी के इतने वर्षों तक सिवाय अपमान के अलावा दिया ही क्या है? वर्षों तक उत्पीड़न सहकर जीने वाला किसान अब भाजपा की सरकार में खुशहाल होगा। यह सोचकर ही कांग्रेसी तिलमिला रहे हैं।


उन्होंने कहा कि किसानों के हित में किसान संशोधन बिल और स्वामी नाथन रिपोर्ट का सारे देश में लागू किया जाना ऐतिहासिक फैसला है। गेहूं का समर्थन मूल्य 12 रुपये से बढ़ाकर 19 रुपये किया गया। खराब होने वाली फसलों का मुआवजा किसानों को मिलने लगा। खुशहाल होता हुआ किसान विरोधियों को अच्छा नहीं लग रहा है इसलिए वे कृषि सुधार बिल पर उसे गुमराह करके अपना उल्लू सीधा करने की फिराक में हैं।विधायक भोजपुर नागेन्द्र सिंह राठौर ने कहा कि नये कृषि सुधार कानून से किसानों को लाभ होगा। किसानों का हित भाजपा के लिए सर्वोपरि है। भाजपा ने कृषि यंत्रों के पूजन का निर्णय लिया। यह परम्पराओं को संरक्षित करने और धरती के ईश्वर किसान को सम्मान देने का निर्णय है। उन्होंने कहा कि भाजपा की सरकार किसान हितैषी है।

Share
LATEST NEWS