कार में शव लादते समय एक को दबोचा, दूसरा फरार, जांच में जुटी पुलिस

उत्तर प्रदेश के फर्रुखाबाद शहर के लालगेट पर भोर में करीब 3 बजे एक कार में दो लोग एक शव को लाद रहे थे। तभी वहां गश्त करते हुए चीता मोबाइल के सिपाही पहुंच गए। आधी रात के समय सेंट्रों कार से शव गायब करने जा रहे एक आरोपी को चीता पुलिस नें दबोच लिया| पुलिस उससे पड़ताल कर रही है| शव देखकर लग रहा ही कि हत्या गला दबाकर या कसकर की गयी है|


शहर कोतवाली क्षेत्र के लाल दरवाजे से कादरी गेट जाने वाले मार्ग पर बीती देर रात लगभग 1 बजे पुलिस नें एक सेंट्रो गाड़ी खड़ी देखी| दोबारा जब चीता मोबाइल पुलिस के सिपाही लगभग 2:30 बजे गस्त के लिए निकले तो उस कार में दो लोग एक शव को लादने जा रहे थे| पुलिस देखकर आरोपी मौके से भागने लगे| जिस पर चीता पुलिस नें एक आरोपी पाती राम उर्फ दुर्गेश पुत्र रतिराम निवासी रामलीला गड्डा को दबोच लिया| जिसके बाद प्रभारी निरीक्षक वेद प्रकाश पाण्डेय, कादरी गेट चौकी इंचार्ज हरिओम त्रिपाठी पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पंहुचे और मोहल्ला रामलीला गड्डा में बंद पड़े पुष्पा पत्नी सुभाष गुप्ता के मकान को देखा |


सिपाहियों को देखते ही शव लाद रहे दोनों युवक भागने लगे। हालांकि एक आरोपी को सिपाहियों ने पीछा कर दबोच लिया है। जबकि दूसरा फरार हो गया। उससे पुलिस पूछताछ कर रही है। शव की हालत से वह कई दिन पुराना लग रहा है। उसके बारे में पुलिस अभी कुछ बता नहीं रही है। 
गली में पुष्पा देवी पत्नी सुभाष गुप्ता का घर खुला पड़ा मिला है। उसमें सभी सामान बिखरा पड़ा है। इससे आशंका है कि उसी घर से शव निकालकर ठिकाने लगाने को ले जाया जा रहा था।

e

Leave a Reply

Share
LATEST NEWS