जिन्दगी की डोर में मरीजों को आक्सीजन सिलेंडर का सहारा

कोरोना महामारी आये दिन लोगों की सांसें थाम रही है| जिसके चलते अधिकतर लोगों को आक्सीजन की जरूरत महसूस होती है| जब आक्सीजन नही होती है तो उनकी जिन्दगी की डोर भी टूट जानें का खतरा रहता है| मरीजों को आक्सीजन सिलेंडर का वितरण किया गया| जिसमे निजी घरों में व प्राइवेट अस्पतालों को सुबिधा उपलब्ध करायी गयी| जिससे मरीजों को फिलहाल राहत की साँस ली|


शहर के जिएयुल इस्लाम के साथ राहुल जैन जिले में मरीजों की टूटती सांसो को आक्सीजन देंने का काम कर रहें है| अभी तक उनकी टीम द्वारा जिले में 417 आक्सीजन सिलेंडरों का वितरण किया जा चुका है|  शहर के बूरा बाली गली के निकट  छोटे बड़े (जम्बो) सिलेंडरों की सप्लाई दी गयी| जिससे मरीजों को राहत की साँस आयी| आक्सीजन की किल्लत भी काफी कम हो रही है| वितरण के दौरान निजी अस्पतालों व घर में आईशोलेट मरीजों को सिलेंडर उपलब्ध कराये गये| जिले में लगातार चली आ रही ऑक्सीजन की किल्लत से साफ़ है की अब समाज सेवी लोगो ने टूटती सासो को एक बार फिर सहारा दिया है और घरो में इलाज करा रहे लोगो को कई दिनों से सिलेंडर की ब्यबस्था करबा कर कोरोना महामारी के खिलाफ कोरोना योद्धा के रूप में निकल कर आये है


आक्सीजन वितरक जिएयुल इस्लाम नें बताया कि प्रतिदिन कानपुर से आक्सीजन भरवाकर जिले में लाकर सप्लाई दे रहें है| जो खाली सिलेंडर उपलब्ध करा रहा है उसे सिलेंडर भरवाकर दिया जा रहा है| लोगो को जैसे जैसे जानकारी मिल रही है सिलेंडर की संख्या भी बढ़ रही है और जो लोग पैसे देने में असमर्थ है उनको हमारी पूरी टीम फ्री सिलेंडर उपलब्ध करा रही है

Share
LATEST NEWS