5 करोड से अधिक के वाहन व उपकरण हो रहे कंडम-video

फर्रुखाबाद जिले के शहर में एक माह से विशेष संचारी रोग अभियान चल रहा है जिसके तहत सरकार का पूरा जोर सफाई व्यवस्था दुरुस्त रखने पर है । नगरपालिका के स्टोर में स्वच्छ भारत मिशन के तहत 2 साल से सैकड़ों हाथगाड़ी उनके पहिए, कूड़ेदान व अन्य उपकरण खुले आसमान के नीचे धूल फांक रहे हैं। पोकलेंड मशीनें व् ट्रैक्टर, ट्राली व अन्य सामान मरम्मत के अभाव में कंडम हो रहे हैं. वहीं नगर पालिका ईओ ने स्वीकारा की यह हमारे पूर्व अधिकारियों की कमियां रही हैं जिसकी वजह से वाहन व उपकरण कंडम हो रहे हैं।

वीओ- नगर पालिका परिषद ने पिछले 3 वर्ष में स्वच्छ भारत मिशन की धनराशि से 5 करोड से अधिक के वाहन व उपकरण खरीदे हैं. इनमें कई वहान तो ऐसे हैं जो कभी अभी तक सड़क पर ही नहीं उतरे हैं और महीनों से खड़े हैं. 2 साल पहले मंगाई लगाई गई हाथ गाड़ी रिक्शा, कूड़ेदान आदि का उपयोग तक नहीं हुआ है.हाथ गाड़ियों के पहिए उठाकर बच्चे स्टोर में ही खेलते हैं.खुले आसमान के नीचे पड़े होने के कारण बारिश का पानी पड़ने से उनमे में जंग लग रही है. कई छोटे बड़े व ट्रैक्टर बड़े ट्रैक्टर खराब हैं. उनके टायर तक खोल लिए गए हैं.

हकीकत यह है कि नगरपालिका का जोर नए वाहनों को खरीदने पर रहता है खराब होने वाले वाहनों की मरम्मत समय से नहीं कराई जाती है और धीरे-धीरे हुए कंडम हो जाते है। पानी की बर्बादी ना दिखे इसलिए ऊपर ढक दी कूड़ा गाड़ी नगरपालिका स्टोर में स्थित पानी की टंकी के नीचे लगे बाल्ब से हजारों लीटर पानी प्रतिदिन बर्बाद हो रहा है. फव्वारा ऊपर ना दिखे इस कारण हाथ गाड़ी को पलट कर गड्ढे को ऊपर रख दिया गया है. फव्वारे का पानी नाली में ही बह रहा है.फव्वारा ऊपर ना दिखे इस कारण हाथ गाड़ी को पलट कर कर गड्ढे के ऊपर रख दिया गया है. लेकिन गड्ढा इतना गहरा है कि अगर कोई गड्ढे में गिर जाए तो हादसा हो सकता है पर नगरपालिका कर्मी व अधिकारी इस पर ध्यान नहीं दे रहे हैं.

वहीं स्थानीय निवासी नन्हे बताया कि यहां पर नए वाहन लाए जाते हैं पर उनका उपयोग नहीं होता है. ऐसे ही बरसात में के पानी धूल व जंग से वाहन व उपकरण खराब हो रहे हैं. अगर इनकी मरम्मत करा कर उनको सुचारु रुप से से उपयोग में लाया जाता है तो कहीं ना कहीं जनता व अन्य लोगों को इसका लाभ मिलता. इससे सरकार को बहुत ही नुकसान हो रहा है. कहीं ना कहीं नगरपालिका कर्मी वे अधिकारियों लापरवाही है। वहीं नगर पालिका के साथ साथ जल निगम का भी स्टोर रूम है. वहीं जल निगम के स्टोर इंचार्ज राम कुमार ने बताया कि यहां की स्थिति बहुत ही खराब है.यहां पर बहुत गंदगी लगी रहती है. रखरखाव की वजह से वाहन व् उपकरण खराब हो रहे हैं.यह नगर पालिका विभाग की लापरवाही है.

जब इस मामले में नगर पालिका ईओ रविंद्र कुमार से बात हुई तो उन्होंने स्वीकारा की रखरखाव की व्यवस्था यहां पर ठीक नहीं है वाहनों को रखने के लिए जो स्टोर होना चाहिए जो उनकी मरम्मत के लिए वर्कशॉप होना चाहिए या धूप छांव या बरसात से बचाव के लिए जो सेट का निर्माण होना चाहिए यहां पर नहीं हुआ है और इसी वजह से वाहन व उपकरण हमारे कंडम की स्थिति में पहुंच गए हैं. यह हमारे पूर्व अधिकारियों की कमियां रही है.

Share
LATEST NEWS