इस मंदिर के फर्श पर लेटते ही गर्भवती हो जाती हैं महिलाएं !

भारत देश में आए दिन कोई ना कोई चमत्कार देखने सुनने को मिलता है।आज हम  एक ऐसे मंदिर के बारे में बताने जा रहे हैं जिसे सुनकर आपको यकीन नही होगा। दरअसल हम जिस मंदिर की बात कर रहे है वहां सिर्फ एक रात फर्श पर सोने से ही महिलाएं गर्भवती हो जाती हैं।वैसे तो हम जानते ही है कि संतान प्राप्ति स्त्री और पुरूष का आपसी संबंध आवश्यक जरूरी होता है। लेकिन इस मंदिर के फर्श पे सोने से औरत मां बन जाती हैं। यहां रोजाना कई निःसंतान महिलाएं मंदिर के आंगन में सोती हैं।दरअसल हम बात कर रहे है हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले की लड़भडोल तहसील के सिमस गांव में स्थित सिमसा माता की इसके अवाला माता सिमसा को संतान-दात्री के नाम से भी जाना जाता है। यह मंदिर अपने चमत्कार की वजह से पूरी दुनिया में जाना जाता है। मान्यता है कि निसंतान महिलाओं के फर्श पर सोने से संतान की प्राप्ति हो जाती है।

Image result for इस मंदिर के फर्श पर लेटते ही गर्भवती हो जाती हैं निःसंतान महिलाएं

बता दें कि यहां नवरात्रों में पड़ोसी राज्यों की सैकड़ों निःसंतान महिलाएं मंदिर के फर्श पर अपनी जगह रोकने के लिए कई महीनो तक इंतज़ार करती हैं। नवरात्रों में होने वाले इस विशेष पर्व को सलिन्दरा कहा जाता है। बता दें कि सलिन्दरा का लोकल भाषा में अर्थ है कि सपना आना। नवरात्रि में निःसंतान महिलाएं मंदिर परिसर में अपनी अपनी जगह रोक लेती है। फिर दिन रात वहीं पर मंदिर के फर्श पर सोती हैं। माना जाता है कि जो महिलाएं माता सिमसा के प्रति मन में सच्ची श्रद्धा लेकर सोती हैं, माता सिमसा उन्हें सपने में दर्शन देकर संतान का आशीर्वाद देती है।

Image result for इस मंदिर के फर्श पर लेटते ही गर्भवती हो जाती हैं निःसंतान महिलाएं

इन चीजों के सपने आने से तय होता है लड़की होगी या लड़का…

यदि किसी महिला को सपने में अमरुद का फल मिलता है तो समझा जाता है कि उसके लडक़ा होगा। अगर किसी को सपने में भिंडी मिली तो उसके संतान के रूप में लड़क़ी पैदा होगी। यदि किसी को सपने में धातु, लकड़ी या पत्थर की बनी कोई चीज मिले तो उसके कोई संतान नहीं होगी। 

Share
LATEST NEWS
WhatsApp CityHalchal