राजस्थानी कलाकार प्रथम देवता गणेश की प्रतिमाओं को सभारने में जुटे

गणेश चतुर्थी पर रिद्धि-सिद्धि के दाता विघ्नहर्ता गणपति गजानन पूरी शान से विराजेंगे। राजस्थान के कलाकार प्रथम देवता गणेश की प्रतिमाओं को पूरे भाव से तैयार करने में जुटे हैं। छोटी मूर्ति से लेकर छह फीट तक की प्रतिमाओं को बनाकर उनमें आकर्षक रंग भरे जा रहे। मूर्त्रीकारो का कहना है की मूर्ती को रंग करने में एको फ्रेंडली रंगों का प्रयोग किया जा रहा है ! और जूट, प्लास्टर ऑफ़ पेरिस, खड़िया और बांस के ढांचे से मूर्ती तैयार की जा रही है गणपति को खुश करने के लिए भक्तों ने सुंदर से सुन्दर मूर्ती को बनाने का आर्डर पहले से बुक कराया हुआ है !

02 सितम्बर को गणेश चतुर्थी मनाई जाएगी। इस बार गजानन के भक्त सिद्धि विनायक की एक दिन ज्यादा आराधना कर सकेंगे। दशमी तिथि दो दिन रहेगी, इससे गणपति बप्पा 11 दिन के लिए आएंगे। आवास विकास तिराहे से नेकपुर के बीच राजस्थानी मूर्तिकार इस समय गजानन की मूर्तियों को अनुपम छटा देने में जुटे हैं।

शुभ माने जाने वाले रंगों से प्रतिमाओं की सजावट की जा रही है। गणेश पांडालों में स्थापित की जाने वाली प्रतिमाओं को बड़े रूप में बनाया गया है। सड़क किनारे लगी प्रतिमाएं लोगों का मनमोह रही हैं। मूर्तियों को तैयार करने में राजस्थानी परिवारों की महिलाएं और बच्चे भी हाथ बटा रहे। मूर्तिकारों का कहना है कि मूर्ति तैयार करने में लगने वाले कच्चे माल की कीमतों में बढ़ोत्तरी हुई है। दो सौ रुपये से लेकर 12 हजार रुपये लागत में प्रतिमाएं तैयार हो रही हैं। गणेश चतुर्थी के कुछ दिन ही रह जाने से ग्राहक भी आने लगे हैं।

Share
LATEST NEWS
मेला रामनगरिया के कई टेंडर फेल, दो दिन बाद होगी अग्रिम कार्यवाही बाल संप्रेक्षण गृह में जिलाधिकारी को मिले गदंगी के अंबार आधार में आसानी से बदल जाएगा स्थानीय पता, पढ़े पूरी खबर मुलायम सिंह यादव जी का जन्मदिन बड़ी धूमधाम के साथ मनाया गया थानाध्यक्ष ने यातायात नियमों के प्रति किया जागरूक ड्राइविंग लाइसेंस के लिए अब नहीं काटने पड़ेंगे विभागों के चक्कर, ये नई व्यवस्था हुई शुरू पुलिस लाइन में रिक्रूटों और आरक्षियों की परीक्षा शुरू हैंडपंप की सरिया 11हजार की विद्युत लाइन में छूने से बाप बेटे की दर्दनाक मौत एसपी के पीआरओ दिनेश गौतम बने स्वाट टीम प्रभारी कलयुगी माँ ने अपनी बच्ची को नाले में फेका -video
WhatsApp CityHalchal