गंगा व रामगंगा का जलस्तर कम होने से भी लोगों की मुसीबतें कम नहीं-देखे वीडियो

गंगा व रामगंगा का जलस्तर कम होने से भी लोगों की मुसीबतें कम नहीं हुई हैं। बीमारियां गांव में पैर फैला रही हैं पर स्वास्थ्य विभाग की टीम गांव नहीं पहुंच रही है। कटान तेज होने से ग्रामीण चिंतित हैं। गांव तीसराम की मड़ैया के प्राथमिक विद्यालय के दो कमरे गंगा में कट गए हैं। कटान से हरसिंहपुर कायस्थ के लोग अपने मकान तोड़कर ईंटें आदि सामान सुरक्षित करने में जुटे हैं।

विकासखंड राजेपुर के गांव तीसराम की मड़ैया में प्राथमिक विद्यालय भवन काफी दिनों से गंगा की कटान की जद में था। शुक्रवार रात गंगा की तेज धार में स्कूल के दो कमरे कटकर बह गए। सुबह जानकारी होने पर प्रधानाध्यापक श्याम कुमार ने खंड शिक्षा अधिकारी रमेश चंद जौहर को सूचना दे दी।

स्कूल गंगा की कटान की जद में है, इसकी जानकारी शिक्षा विभाग को पहले से थी, लेकिन शिक्षा विभाग के अधिकारियों ने स्कूल भवन की नीलामी भी नहीं कराई। नीलामी हो जाती तो कुछ रुपये विभाग के खाते में चले जाते। शनिवार को नरौरा बांध से गंगा में 42 हजार 381 क्यूसेक पानी छोड़ा गया है।

गंगा में पानी कम छोड़े जाने से जलस्तर 136.40 मीटर से घट कर 136.25 मीटर पर पहुंच गया है। वहीं रामगंगा का जलस्तर 134.75 से घट कर 134.50 मीटर पर आ गया। रामगंगा में खो हरेली व रामनगर से 7166 क्यूसेक पानी छोड़ा गया है।
पानी कम होने से उगरपुर, हरसिंहपुर कायस्थ, तीसराम की मड़ैया में कटान तेजी से हो रहा है। इससे ग्रामीण चिंतित हैं। उनका कहना है कि इसी तरह कटान होता रहा तो उनकी सारी खेती गंगा में समा जाएगी। हरसिंपुर कायस्थ में कटान की वजह से गांव के कुछ लोग अपने मकान तोड़कर ईंटें सुरक्षित करने में जुटे हैं।

गंगा की बाढ़ से जूझ रहे ग्रामीणों का कहना है कि राजस्व विभाग का कोई अधिकारी तो दूर कर्मचारी भी गांव की हालत देखने नहीं आया है। बाढ़ का पानी जिन गांव में भरा था, उनमें संक्रामक रोग फैल रहे हैं। गांव में दवा देने स्वास्थ्य विभाग की टीम नहीं जा रही है।

ग्रामीण झोलाछाप से इलाज करा रहे हैं। गांव जुगराजपुर को आने जाने के लिए कोई रास्ता नहीं है। इससे ग्रामीण अपने वाहनों को गांव से एक किलोमीटर दूर दूसरे गांव में खड़े कर कर देते हैं। ग्रामीण पानी से गुजर कर गांव तक पहुंच पाते हैं। इस गांव में रीना देवी, सावित्री देवी, दुर्गा, प्रिया, अनमोल, सोनम, आदि 50 से अधिक लोग बीमार हैं।

Share
LATEST NEWS
फोन के जरिये करोड़ों का चूना लगाने वाले दिल्ली के मोती नगर इलाके के फर्जी कॉल सेंटर का भाड़ा फोड़ बस और ट्रक के बीच भीषण टक्कर, 10 लोगों की मौत 10 जिलों के डीएम-एसपी से पराली जलाने की घटनाओं पर रिपोर्ट तलब शोहदों ने दो बहनों को जलाकर मारा, तीसरी की नहीं होने दे रहे शादी पटरियों पर फेंकी गई बोतलों का हो रहा गलत इस्तेमाल, जा सकती है आपकी जान एआरओ बरेली की ओर से सेना भर्ती रैली को देखते हुए पुलिस ने सुरक्षा व्यवस्था संभाल ली बगैर टेक्नीशियन के चल रही है लोहिया अस्पताल की ओटी स्मृति दिवस पर कैंडेल मार्च, दी श्रद्धांजलि बूढ़ी गंगा के पुर्नजीवित को रुका काम फिर होगा चालू युवक की मौत पर परिजनों ने पोस्टमार्टम रुकवाया, हंगामा
WhatsApp CityHalchal