लखनऊ मेट्रो में 250 इंजीनियरों की भर्ती होगी

लखनऊ मेट्रो रेल कारपोरेशन में 250 इंजीनियरों की भर्ती होगी। लखनऊ मेट्रो रेल कारपोरेशन का नाम बदलकर उत्तर प्रदेश मेट्रो रेल कारपोरेशन कर दिया गया है। लखनऊ मेट्रो की दिल्ली में  सोमवार को हुई बोर्ड बैठक में यह महत्वपूर्ण निर्णय लिया गया।

लखनऊ मेट्रो रेल कारपोरेशन की बोर्ड बैठक सोमवार को दिल्ली में केंद्रीय शहरी आवास सचिव की अध्यक्षता में हुई। इसमें कानपुर और आगरा मेट्रो के निर्माण के लिए इंजीनियरों की भर्ती का प्रस्ताव रखा गया था। करीब 250 इंजीनियरों की इन दोनों शहरों की मेट्रो परियोजनाओं के लिए जरूरत है। बोर्ड ने इंजीनियरों की भर्ती के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी। लखनऊ मेट्रो रेल कारपोरेशन को इसके लिए शीघ्र विज्ञापन जारी कर भर्ती करने को कहा गया है। 


एलएमआरसी अधिकारियों का कहना है  कि अभी निर्माण से जुड़े इंजीनियरों की ही भर्ती होगी। इसमें अवर अभियंता, सहायक अभियंता, सहायक प्रबंधक, उप महाप्रबंधक जैसे पदों पर भर्ती होगी। निर्माण कार्य पूरा होने के बाद मेट्रो के संचालन से जुड़े तकनीकी अधिकारियों इंजीनियरों व कर्मचारियों की भर्ती की जाएगी। इसके अलावा बोर्ड ने लखनऊ मेट्रो रेल कारपोरेशन के नाम बदलने के प्रस्ताव को भी अपनी मंजूरी दे दी है।

प्रदेश सरकार ने जून 2019 में ही लखनऊ मेट्रो रेल कारपोरेशन का नाम बदलकर उत्तर प्रदेश मेट्रो रेल कारपोरेशन करने को मंजूरी दी थी। लेकिन केंद्र की मंजूरी न मिलने से नाम नहीं बदल पा रहा था। अब लखनऊ मेट्रो रेल कारपोरेशन रजिस्टार आफ कंपनीज के यहां से इसका नाम संशोधित कराएगा।

Share
LATEST NEWS
WhatsApp CityHalchal