विसर्जन को जा रही मूर्ति के रास्ते में मांस फेंकने को लेकर हुआ बवाल

उत्तर प्रदेश के बस्ती के छावनी थाना क्षेत्र स्थित अमोढ़ा बाजार में विसर्जन को जा रही दुर्गा प्रतिमाओं के रास्ते में मांस फेंकने को लेकर बवाल हो गया। नाराज लोगों ने कुछ दुकानों के काउन्टर व तख्त को जला दिया। मौके पर एसडीएम, सीओ व बड़ी संख्या में फोर्स तैनात कर दी गई है। शहर में मौजूद सीपीएफएम को भी अमोढ़ा बाजार में लगा दिया गया है। 


छावनी क्षेत्र के देवखाल व आसपास की तीन दुर्गा प्रतिमाएं अमोढ़ा बाजार से गुजर रही थी, जिनका विसर्जन रामरेखा नदी में होना था। आयोजकों का आरोप है कि प्रतिमाओं के रास्ते में कई दुकड़े ताजा मांस का फेंका मिला। आयोजक मांस फेंकने वालों का नाम लेकर भी आरोप लगा रहे थे। प्रतिमाओं को वहीं पर रोक दिया गया।

जानकारी होने पर एसडीएम हर्रैया आशाराम वर्मा व सीओ हर्रैया मय फोर्स पहुंचे। एक बार लोगों को समझा बुझा कर आगे बढ़ाया, लेकिन कुछ लोगों ने तत्काल कार्रवाई की मांग को लेकर अड़ गए। मामला बिगड़ा तो कुछ लोगों ने वहां पर बने मांस के दुकानों के करीब एक दर्जन काउन्टर व दुकानों को तोड़ते हुए आग लगा दिया। 


आगजनी की सूचना जिले के आला अधिकारी अमोढ़ा के लिए रवाना हो गए हैं। मौके पर आरएएफ, पीएसी व भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। एसडीएम आशाराम वर्मा ने बताया कि स्थिति नियंत्रण में है। प्रकरण की जांच की रही है। यह घटना उस जगह पर हुई, जहां पर मुर्गा व मछली आदि की दुकान लगती है।

Leave a Reply

Share
LATEST NEWS
WhatsApp CityHalchal