50वर्षों से मनाया जा रहा करबा चौथ ब्रत जानिए कैसे


करवाचौथ का इंतजार हर सुहागिनों को ब्रेसबी से होता है। दिनभर अन्न-जल त्याग कर जब रात को पत्नियाँ सज-सँवरकर, हाथों में पूजा की थाली लिए छलनी से चाँद को निहार कर अपने पति के हाथों से पानी पीती हैं तो न केवल पत्नियों को उनके व्रत का प्रतिसाद मिलता है |


फर्रुखाबाद शहर के मोहल्ला रेलवे रोड स्थित उषा अरोरा के घर पर तीन दर्जन सिंधी समाज की महिलाएं एक साथ करती करवा चौथ व्रत का पूजन।व्रत रखने वाली महिलाओं ने बताया कि यहां पर यह सत्यवती अरोरा के समय से मनाया जा रहा है।महिलाएं सोलह श्रृंगार करने के बाद चांद का पूजन और उनको जल देती है।फिर अपने पति का चेहरा देखने के बाद व्रत तोड़ती है।

जिन महिलाओं ने पहली बार व्रत रखा है।उनका कहना था कि पहले तो डर लगा लेकिन सास और जेठानी की मदद से यह व्रत पूरा हो रहा है।जिन महिलाओं के पति बाहर नौकरी कर रहे है घर पर नहीं है।

वह महिलाएं मोबाइल से वीडियो काल करके उनसे बातचीत और चेहरा देखने के बाद व्रत खोलेगी।इस दौरान नीलम अरोरा,रेखा बजाज,लता बजाज,कोमल बचानी, स्वाती बचानी,सीमा बचानी,गरिमा,राधिका डवानी,प्रेरणा डवानी,पूनम कृपलानी,नेहा कृपलानी आदि महिलाएं मौजूद रहीं ।

Share
LATEST NEWS
इंजीनियर आाखिरकार ने जीत ली कोरोना से जंग लॉकडाउन में ढील खड़ी कर सकता है मुश्किल, भारत में जुलाई तक 21 लाख कोरोना केस की संभावना 50 लाख से ज्यादा वृद्धों को मिलेगी वृद्धावस्था पेंशन 8 दिन से फ्लू कैंप में मरीजों की संख्या घटी कोविड-19 के साथ साथ अब किसान टिड्डी दल से परेशान भारत के भविष्य के चिन्ता- बच्चों के दाखिले कराने से लेकर उनके बेहतर स्वास्थ्य के लिए तैयारियां शुरू बेरोजगार होकर लौटे भारतीय श्रमिकों को सौ फीसदी काम दिलाने के डीएम के निर्देश गांवों के तालाबों को चिन्हित कर मत्सय पालन को बढ़ावा देने की तैयार शुरू 1 जून से चलेंगी रोडवेज बसें, 30 यात्री हो सकेंगे सवार, बिना मास्क के नहीं मिलेगी एंट्री यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ बोले, कोरोना संकट को जून में नियंत्रित कर लेंगे
फर्रुखाबाद में नए मरीज 3 डिस्चार्ज कोरोना मरीज 8 कोरोना ऐक्टिव संख्या - 17 जिले में टोटल संख्या मरीज 25