विवाहिता की हत्या में पति व सास को आजीवन कारावास

फर्रुखाबाद। अपर जिला जज (षष्टम) रेखा शर्मा ने विवाहिता की हत्या में आरोपित पति व सास को दोषी करार देते हुए आजीवन कारावास की सजा सुनाई। दोनों पर बीस-बीस हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया गया। शमसाबाद थाना क्षेत्र के गांव हसनापुर निवासी सहदेव सिंह ने पुत्री सविता की शादी मेरापुर थाना क्षेत्र के गांव रूखैया निवासी उपेंद्र पुत्र रक्षपाल के साथ वर्ष 2010 में की थी।

शादी के बाद ससुरालीजन दहेज में बाइक, सोने की चेन व भैंस की मांग करने लगे। मांग पूरी न होने पर सविता का उत्पीड़न करना शुरू कर दिया। 6 दिसंबर 2016 की रात ससुरालीजनों ने विवाहिता के साथ मारपीट की और उसको जहर दे दिया, इससे सविता की मौत हो गई थी। पिता सहदेव ने सविता के पति उपेंद्र, सास मीरादेवी, सतेंद्र, परसराम, नागेंद्र, दो ननद व बहनोई के खिलाफ दहेज हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। विवेचक ने जांच कर पति उपेंद्र व सास मीरादेवी के खिलाफ दहेज हत्या में आरोप पत्र दाखिल किया।

जिला शासकीय अधिवक्ता प्रवीण कुमार ने अदालत में दलीलें पेश कीं। मुकदमे की सुनवाई के दौरान आरोपी पति व सास पर हत्या का भी आरोप तय किया गया। सुनवाई पूरी होने पर न्यायाधीश ने दोनों आरोपियों को हत्या व दहेज उत्पीड़न में दोषी पाकर सजा सुनाई। उपेंद्र गांव में खेती करता है और उसकी मां मीरा देवी गृहिणी हैं।

Share
LATEST NEWS
WhatsApp CityHalchal