देवोत्थानी एकादशी पर निर्जला व्रत रखकर परिवार की सुख, समृद्धि की जाएगी कामना

कार्तिक गंगा स्नान से पहले देवोत्थानी एकादशी श्रद्धापूर्वक कल शुक्रवार को मनाई जाएगी, जबकि मांगलिक कार्यों के लिए शुभ दिन भी शुक्रवार से शुरू हो रहे हैं। जिसके साथ ही शादियों का मौसम शुरू हो जाएगा, जो पिछले चार महीनों से बंद था।


देवोत्थान एकादशी शुक्रवार को घरों में गन्ने की पूजा अर्चना कर मनाई जाएगी। महिलाएं चावल के पीठे का चौक सजाएगीं, उसमें भगवान विष्णु के चरण बनाकर और लकड़ी की पटली से ढककर उन्हें जगाने का काम किया जाएगा। यह कार्यक्रम शहर के कई स्थानों पर होगा और सिंघाड़ा, शकरकंद, मिठाई, फल आदि रखे जाएंगे। महिलाओं के साथ ही घर के पुरुषों व बच्चों भी पूजा कर भगवान विष्णु का आशीर्वाद लेंगे। शहर के कई स्थानों पर शाम को महिलाएं एकत्रित होकर यह कार्यक्रम करती हैं।

निर्जला व्रत रखकर परिवार की सुख, समृद्धि की कामना की जाएगी। देवोत्थानी एकादशी पर मां तुलसी का विवाह भगवान सालिगराम यानि विष्णु जी के साथ कराया जाएगा। जिसके बाद शादियों का दौर भी शुरू हो जाएगा।

Leave a Reply

Share
LATEST NEWS
फोन के जरिये करोड़ों का चूना लगाने वाले दिल्ली के मोती नगर इलाके के फर्जी कॉल सेंटर का भाड़ा फोड़ बस और ट्रक के बीच भीषण टक्कर, 10 लोगों की मौत 10 जिलों के डीएम-एसपी से पराली जलाने की घटनाओं पर रिपोर्ट तलब शोहदों ने दो बहनों को जलाकर मारा, तीसरी की नहीं होने दे रहे शादी पटरियों पर फेंकी गई बोतलों का हो रहा गलत इस्तेमाल, जा सकती है आपकी जान एआरओ बरेली की ओर से सेना भर्ती रैली को देखते हुए पुलिस ने सुरक्षा व्यवस्था संभाल ली बगैर टेक्नीशियन के चल रही है लोहिया अस्पताल की ओटी स्मृति दिवस पर कैंडेल मार्च, दी श्रद्धांजलि बूढ़ी गंगा के पुर्नजीवित को रुका काम फिर होगा चालू युवक की मौत पर परिजनों ने पोस्टमार्टम रुकवाया, हंगामा
WhatsApp CityHalchal