उन्नाव: मुआवजे को लेकर उग्र किसानों ने सब स्टेशन पर हमला, आगजनी

  • मुआवजे को लेकर किसानों के प्रदर्शन में दर्ज हुई 2 FIR
  •  36 नामजद 200 अज्ञात के खिलाफ केस

उत्तर प्रदेश  राज्य औद्योगिक विकास निगम की ट्रांस गंगा सिटी परियोजना  के लिए अधिग्रहित की गई जमीन का उचित मुआवजा  न मिलने से नाराज हजारों किसान उन्नाव में लगातार प्रदर्शन कर रहे हैं. शनिवार को किसानों के पुलिस से झड़प और जमकर प्रदर्शन के बाद प्रशासन ने सख्ती बरती और मामला शांत होने का दावा किया था. लेकिन, रविवार को एक बार फिर किसान उग्र हो गए और उन्होंने ट्रांस गंगा सिटी एरिया के करीब 1 किलोमीटर की परिधि में बने सब स्टेशन पर हमला कर दिया. किसानों ने सब स्टेशन के पास पड़े प्लांट के पाइपों को आग के हवाले कर दिया. आगजनी की इस घटना से जिला प्रशासन में हड़कंप मच गया. आनन-फानन में दमकल की गाड़ियां मौके पर भेजी गई हैं.

 उधर उत्तर प्रदेश  राज्य औद्योगिक विकास निगम की ट्रांस गंगा सिटी परियोजना  के लिए अधिग्रहित की गई जमीन का उचित मुआवजा  नहीं मिलने से नाराज हजारों किसान उन्नाव में लगातार प्रदर्शन कर रहे हैं. शनिवार को हुए प्रदर्शन के बाद गंगाघाट कोतवाली में पूरे मामले में दो मुकदमे दर्ज किए गए हैं और कुल 36 नामजद व 400 अज्ञात लोगों पर मुकदमा दर्ज किया गया है. पहले केस में यूपीएसआईडीसी  की तरफ से 7 नामजद व 200 अज्ञात पर मुकदमा दर्ज कराया गया है. वहीं दूसरा मुकदमा पुलिस की तरफ से 29 नामजद व 200 अज्ञात पर मुकदमा दर्ज कराया गया है. घटनाक्रम में अब तक 5 लोगों की गिरफ्तारी की जा चुकी है.

उधर रविवार को एक बार फिर किसान उग्र हो गए और उन्होंने ट्रांसगंगा सिटी एरिया के करीब 1 किलोमीटर की परिधि में बने सब स्टेशन पर हमला कर दिया. किसानों ने सब स्टेशन के पास पड़े प्लांट के पाइपों को आग के हवाले किया. आगजनी की इस घटना से जिला प्रशासन में हड़कंप मच गया. आनन-फानन में दमकल की गाड़ियां मौके पर भेजी गईं.

बता दें शनिवार को प्रदर्शनकारी किसानों ने जेसीबी और गाड़ियों पर पथराव किया, जिसके बाद पुलिस को बुलाना पड़ा. मौके पर 12 थानों की पुलिस और पीएसी की टुकड़ी को भी तैनात किया गया है. एक किसान नेता ने बताया कि हम लोग दो साल से लड़ाई लड़ रहे हैं, लेकिन सरकार हमारी बात को नहीं सुन रही.

उचित मुआवजा नहीं मिलने से गुस्से में हैं किसान


किसानों का आरोप है कि वर्ष 2005 में बगैर समझौते के उनकी जमीनों को अधिगृहित कर लिया गया था. लेकिन बदले में हमें उसका मुआवजा नहीं दिया जा रहा, इसके विरोध में हम सड़क पर उतरे हैं.

Share
LATEST NEWS
फर्रुखाबाद, टोटल मरीज 195 डिस्चार्ज कोरोना मरीज 116 कोरोना ऐक्टिव संख्या 72 कोरोना मरीज की मौत 07